स्वामी विवेकानंद जयंती पर नशामुक्ति व रक्त परीक्षण शिविर का हुआ आयोजन


लटेरी- नशा व्यक्ति के लिए अभिशाप है। नशा व्यक्ति व समाज दोनों को भीतर से खोखला कर देता है।

कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त करते हुए पुर्व डीजीपी वेदप्रकाश शर्मा

नशे की गिरफ्त में आकर व्यक्ति का शारीरिक व मानसिक ही नहीं अपितु चारित्रिक पतन भी हो जाता है। नशा के संदर्भ में यह बात सामाजिक संगठन जन चेतना मंच-आनंदपुर द्वारा लटेरी में स्वामी विवेकानंद जयंती पर आयोजित नशामुक्ति व रक्त परीक्षण शिविर में पूर्व पुलिस महानिरीक्षक वेद प्रकाश शर्मा ने उद्बोधन में कही।

नशामुक्ति पर उद्बोधन देते हुए पुर्व विंग कमांडर अनुमा आचार्य

यदि नशा करना ही है तो देश प्रेम का करें। अपने बच्चों को शिक्षित बनाने एवं स्वयं एक जागरूक व्यक्ति बनने का करें। उक्त उद्गार विशिष्ट अतिथि विंग कमांडर वायुसेना, अनुमा आचार्य द्वारा नशामुक्ति व रक्त परीक्षण शिविर में उद्बोधन स्वरूप व्यक्त किये।

रक्त जाँच शिविर में रक्त की जाँच करती सदगुरु ट्रस्ट की टीम

शिविर का आयोजन सामाजिक संगठन जन चेतना मंच-आनंदपुर द्वारा रखा गया।कार्यक्रम में नशामुक्ति केंद्र विदिशा द्वारा नशा पर आधारित प्रदर्शनी भी लगाई गई। नशा की विभिन्न बुराइयों को प्रकट करते हुए नशामुक्ति केंद्र विदिशा के डॉ भूपेंद्र सिंह द्वारा विस्तार से उसके कारण व निदान भी बतलाये। रक्त परीक्षण का कार्य सद्गुरु नगर चिकित्सालय द्वारा किया गया।

अतिथियों का स्वागत करते हुए आयोजक गण

संगठन के जिला अध्यक्ष जितेंद धाकड़ द्वारा कार्यक्रम के संदर्भ में बतलाया कि शिविर में नेहरू युवा केन्द्र विदिशा एंव देखो लटेरी सौशल ग्रुप कार्यक्रम के सहयोगी रहे। शिविर में मंच संचालन सीताराम वघेला द्वारा किया।

कार्यक्रम में मौजूद लोग बक्ताओं को सुनते हुए

कार्यक्रम में मुख्यातिथि वेद प्रकाश शर्मा पूर्व पुलिस महानिरीक्षक व विशिष्ट अतिथि अनुमा आचार्य सेवानिवृत्त विंग कमांडर वायुसेना, व्लॉक मेडिकल अधिकारी नरेश बघेल, डॉ सुरेंद्र उपाध्याय युवा समाजसेवी डॉ नफीस खान, देखो लटेरी ग्रुप के संयोजक सत्या चौकसे, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस पीएस सिसोदिया नेहरू युवा केंद्र ब्लॉक समन्वयक, अनिल कुशवाहा विभिन्न ग्रामों से पधारे संगठन के कार्यकर्तागण सहित सैकड़ों क्षेत्रवासी उपस्थित रहे।

Satyanarayan Chouksey

Jay ho lateri