धिक्कार है किसानों का मजाक उड़ाना कोई काँग्रेस सरकार से सीखे

मध्यप्रदेश के युवक ने कुछ इस तरह का संदेश किसानों केलिए लिखा है, सरकार द्ववारा किसानों को आचार संहिता लगने से पहले किसानों को किये गए कर्जमाफी मोबाइल संदेशों को लेकर मध्यप्रदेश के लटेरी जिला विदिशा के निवासी सत्यनारायण चौकसे ने अपनी फेसबुक वॉल पर ओर साथ में सरकार द्वारा किसानों को किये गए मैसेज के फोटो भी शेयर किये हैं।

आप भी पड़िए वह संदेश

मित्रों…🙏
ह्रदय प्रिय मीडिया के साथियों , अन्न दाता भाइयों नमस्कार मैं सत्यनारायण चौकसे” आपको बता दुँ की अभी किसान भाइयों को सरकार की तरफ से मोबाइल सन्देश मिल रहे हैं।

संदेश में कहा है कि आचार संहिता के कारण आपकी ऋण माफी स्वीकृत नही हो पाई है पर कांग्रेसी भाई तो कह रहे है थे मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शपथ लेने के बाद ना पानी पिया ना कुछ खाया , सीधा कर्जा माफ किया तो ये कैसा कर्जा माफ था #कमलनाथ_जी

अभी तो #आचार_संहिता लगी ही नही है #कमलनाथ जी राहुल गांधी जी ने कहा था दस दिनों में सभी किसानों का कर्ज माफ नही तो मुख्यमंत्री बदल देंगे ,, राहुल जी क्या अभी तक दस दिन नही हुए,, आप किसानों के साथ छल प्रपंच करके उन्हें धोखे में रख रहे हो ,, *अन्नदाता आपको माफ नही करेंगे * काँग्रेस सरकार ने इस बार गेंहू समर्थन मूल्य बोनस जो पिछली शिवराज जी की सरकार ने 265 रुपए प्रति क्विंटल दिया था घटाकर 160 रुपए देने को कहा है जबकि बोनस मिलाकर पिछले वर्ष ही गेंहू 2 हजार प्रति क्विन्टल बिके थे इतना भाव तो बाजारों में ही है अगर आपका बस चले तो आप चव्वनी भी चलवा दो इस वर्ष तो बड़े भावों में गेहूं खरीदी करना थी जो पिछली भाजपा सरकार ने 2100 रु. प्रति क्विन्टल तय किया था ।
मामा बहुत याद आ रहे है आप, किसानों पर अन्याय किये जा रहे है।

सदैव आपका
सत्यनारायण चौकसे
भाजयुमो लटेरी

कुछ इस तरह का संदेश किसानों केलिए लिखा है, सरकार द्ववारा किसानों को आचार संहिता लगने से पहले किसानों को किये गए कर्जमाफी मोबाइल संदेशों को लेकर मध्यप्रदेश के लटेरी जिला विदिशा केनिवासी सत्यनारायण चौकसे ने अपनी फेसबुक वॉल पर ओर साथ में सरकार द्वारा किसानों को किये गए मैसेज के फोटो भी शेयर किये हैं।

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=1957577317704015&id=100003552985178

Satyanarayan Chouksey

Jay ho lateri